AUTHOR

header ads

Old pension scheme after 2004

पुरानी पेंशन बहाली पर लोकसभा में मिला यह जवाब


केंद्रीय कर्मचारियों के द्वारा लगातार पुरानी पेंशन बहाली की मांग की जा रही है परंतु जहां एक और उनके द्वारा लगातार इस पर अपना पक्ष रखकर के पुणे पुरानी पेंशन को बहाल करने का दबाव सरकार पर बनाया जा रहा है वहीं पर सरकार के द्वारा इस पर अपना जवाब भी लोकसभा में दिया गया।
Old pension scheme after 2004, Restoration of Old Pension Scheme,
Restoration of Old Pension Scheme

लोकसभा में प्रश्न नंबर 3569  जोकि राकेश सिंह द्वारा पूछा गया था जिसमें पुरानी पेंशन बहाली के बारे में पूछा गया था उन्होंने इस प्रश्न के माध्यम से निम्नलिखित चीजें पूँँछी थीं -
1.  उन्होंने पूछा कि क्या श्रमिक संगठनों/ सरकारी कर्मचारियों द्वारा केंद्रीय सरकारी कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन योजना को पुनः बहाल करने की मांग की जा रही है,  क्या 2004 में कार्यान्वित की गई नई पेंशन योजना के अंतर्गत पेंशन की राशि कम और अनिश्चित है ?
2. उन्होंने कहा यदि इसका जवाब हां है तो क्या सरकार कर्मचारियों की उपरोक्त मांग पर विचार कर रही है ?
3.  उन्होंने यह भी पूछा कि यदि हां तो उसका क्या विवरण है और यदि नहीं तो इसके क्या कारण है ?
इस प्रश्न का उत्तर देते हुए लोकसभा में (Minister of state (finance) श्री अनुराग सिंह ठाकुर ने इस प्रकार जवाब दिया -
1. पहले प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा - जी हां।
2. एवं 3. के उत्तर में उन्होंने कहा कि बढ़ाते और अवहनीय पेंशन बोझ के कारण, सरकार ने निर्धारित लाभ, उपयोग अनुसार भुगतान करने की पेंशन योजना के स्थान पर निर्धारित अंशदान पेंशन योजना जो अब राष्ट्रीय पेंशन योजना (एनपीएस) के नाम से जानी जाती है को अपनाने का सुविचारित कदम उठाया था। इस बदलाव ने सरकार के सीमित संसाधनों को अधिक उत्पादक और सामाजिक आर्थिक विकास हेतु विमुक्त करने में भी सहायता की है।
दिनांक 1 जनवरी 2004 को अथवा इसके बाद भर्ती हुए केंद्रीय सरकार के कर्मचारियों के संबंध में एनपीएस के स्थान पर पुरानी पेंशन योजना लाने का कोई भी प्रस्ताव नहीं है।
उपरोक्त प्रश्न के उत्तर से यह स्पष्ट हो जाता है कि केंद्र सरकार किसी भी प्रकार से पुरानी पेंशन बहाली योजना को लागू करने के पक्ष में नहीं है, भले ही केंद्र सरकार के कर्मचारियों से जुड़े हुए संगठन एवं केंद्र सरकार के कर्मचारी अपना दबाव इसे बहाल करने के लिए डाल रहे हो।

Post a Comment

0 Comments